Goal Setting - Law of Attraction in Hindi

Goal Setting Law of Attraction in Hindi - ShareHindi की Law of Attraction Series के दूसरे नियम में आपका स्वागत हैं। आज की पोस्ट में हम लॉ ऑफ अट्रैक्शन
Goal Setting - Law of Attraction in Hindi

Introduction

ShareHindi की Law of Attraction Series के दूसरे नियम में आपका स्वागत हैं। आज की पोस्ट में हम लॉ ऑफ अट्रैक्शन के दूसरे नियम के बारे में बात करेंगे। इस नियम में आप जानोगे की हम किस तरह से अपने Goal को Set कर सकते हैं या Goal को हम कैसे बना सकते हैं।

हम सब पहले नियम में जान चुके है कि Law of Attraction या कोई भी काम कर रहे हैं तो हमें उस पर विश्वास होना बहुत ही जरूरी हैं। विश्वास के बिना किसी भी तरह का कोई भी काम नही कर सकते । अगर आप पहले ही इस पोस्ट को पढ़ कर दूसरे नियम को सीखने आये हैं तो आप इस नियम के बारे में जान पाओगे। अगर आप अब तक उस पोस्ट को नही पढ़े हैं तो उसको आप यहां से Direct पढ़ सकते हैं क्योंकि पहले नियम को मध्य नजर रखते हुए ही इस नियम के बारे में जानकारी दी जाएगी। कुछ ऐसी बाते इस नियम में Remind की जाएगी जिसके बारे में हम पहले नियम के अंदर बात कर चुके हैं।

अब हम मान कर चलते हैं कि आप Law of Attraction के पहले नियम को ध्यानपूर्वक देख और समझ चुके हैं। और अब आप अपना Goal Setting करने की तरफ बढ़ चुके हैं। जैसा कि हम पहले बता चुके हैं कि कोई भी काम करने के लिए विश्वास जरूरी हैं। आपको पहले अपना विश्वास बनाने की जरूरत हैं Law of Attraction के प्रति और खुद के प्रति।

Goal Setting in Law of Attraction

अब हम विश्वास बना चुके हैं तो अब हमें अपने Goal Setting की ओर जाने की जरूरत हैं, जो आपको एक सही रास्ता बताने में मदद करेगा। कुछ भी हासिल करने के लिए हमें Goal Setting की जरूरत पड़ती हैं। इसको आप एक उदाहरण के साथ समझ सकते हैं।
उदाहरण के तौर पर अगर आप Railway Station पर हो और कही जाने के लिए Ticket Seller से टिकट लेने की कोशिश कर रहे हो। आप उनको Ticket के पैसे दे देते हो मगर आप उनको आपकी Destination के बारे में नही बताते की आपको जाना कहा हैं, तो Ticket Seller आपको टिकट देने की बजाए आपको आपके पैसे वापिस कर देगा। जब तक आप उनको ये ही नही बताओगे की आपको जाना कहा हैं तो आपको वो टिकट किसी भी हाल में नही दे पायेगा।
ऐसे ही हमारी असल जिंदगी में होता हैं। अगर आप उस Super Power को जिसको हमने पहले नियम में जाना हैं, उसको ये नही बताओगे की आपको लेना क्या हैं तो आपको मिलेगा भी कुछ नहीं। इसीलिए आपको Super Power से मांगने के लिए Goal बनाने बहुत ही जरूरी हैं।

How Make A Goal in Law Of Attraction

अब हम अपने Goal को कैसे बनाये इस बारे में चर्चा करेंगे। काफी लोग इस बात को बताने के लिए कतराते हैं कि हमने Goal सेट किये हुए हैं। और कुछ लोग इनको खुल के बताने की हिम्मत रखते हैं। इन बीच हम कुछ ऐसे लोगो को भी देखते हैं जिसको Goal Setting बहुत ही मुश्किल वाली चीज लगती हैं। मगर आप सब को मुझे बताने में खुशी होगी कि ऐसा कुछ भी नहीं हैं। Goal Set करना कली महाभारत नहीं हैं ये तक एक अपने दिमाग की कसरत हैं जिस से हमें पता लगता हैं कि हमारा दिमाग कितनी दूर तक सोच सकता हैं।

Goal Setting करने के लिए हमें 3 Type के Goal बनाने पड़ते हैं -

  • Short Term Goal
  • Mid Term Goal
  • Long Term Goal
  • इन 3 Goals Type को बताने से पहले में आपको बताना चाहूंगा कि हम सब हर दिन, हर समय कोई न कोई Goal पूरा करते ही हैं। फर्क सिर्फ इतना हैं हम उनको कभी महसूस नही करते हैं। जो आप यहां मेरे द्वारा दी हुई जानकारी को पढ़ रहे हैं, ये Goal भी आप पहले से ही Set कर चुके थे। बस आपने उसको बनाया तो सही मगर लिखा नहीं। ऐसे ही सुबह उठने से लेकर रात के सोने तक हज़ारो Goals को हम पूरा करते हैं, जिनमे खाना, पीना, सोना, नहाना, जाना सब कुछ आ जाता हैं। वे सब हमारे रोजमर्रा के Goals हैं जो एक Temporary समय के लिए हैं और इनमें हम Success भी पा लेते हैं। अब हमें एक Permanent Success की तैयारी करनी हैं जिसको हम अपनी Goal Sheet में लिखेंगे।

    Process of Making Goals/Targets

    सबसे पहले Goal या Target बनाते समय हमें अपने दिमाग को खुले आसमान में खुला छोड़ना चाहिए ताकि वो एक आज़ाद पंछी की तरह घूम सके और अपनी उड़ान भर सके।

    आप इस समय अपने आप को किसी से भी कम ना समझे, क्योंकि जो आप खुद को समझते हो आप उस से कई गुना ज्यादा हिम्मत रखते हो। तो जब आप कोई Goal लिख रहे हैं तो अपने आप को कम ना समझो कि ये हो ना पाएगा।

    प्रकृति के लिए कुछ भी छोटा बड़ा नहीं होता, उसके लिए आपकी इच्छा सिर्फ एक इच्छा हैं वो चाहे छोटी हो या बड़ी। वो Super Power आपकी इच्छा को पूरा जरूर करेगी।

    जैसा हम पहले जान चुके हैं कि Goals 3 टाइप के होते हैं उनमें से पहले Short Term Goal हैं।
    इस Goal में आपको छोटे छोटे Goals रखने की जरूरत हैं जिसको आप आसानी से पा सके। जिनके ऊपर आप 10 से 20 हज़ार आराम से लगा सको।

    दूसरे नंबर पर आता हैं Mid Term Goals जिसका अर्थ हैं मध्यवर्गीय Goals। जिनको आप 1 साल के अंदर हासिल करना चाहते हों। इस Goals के लिए आप 50 से 60 हज़ार आराम से खर्च कर सकते हों।

    तीसरे नंबर पर आता हैं Long Term Goals जिसमे आपको लंबे समय के लिए Goals सेट करने होते हैं। इस Goals की अवधि 2 से 4 साल की होती हैं। इसमे आपको ये तय करना होता हैं कि हम 2 से 4 साल के अंदर कहा तक पहुंच सकते हैं।

    हम सब ने Goals कैसे लिखे उसके बारे में कुछ जानकारी हासिल की हैं जिसको हमने काफी अच्छे से सीखा हैं। अगर आपके दिमाग में किसी तरह की संका हो तो आप हमसे Comment में पूछ सकते हैं।

    Goal Setting Q/A Section

    • आप किसी भी छोटे से छोटा काम करने के लिए तैयार हो जाते हैं तो आप उसकी Planning जरूर करते हैं और उसी Planning को Goal Setting कहते है। Goal को Set किए बिना आप Success हासिल या अपनी इच्छाओं को पूरा नही कर सकते। जैसे: बिना Goal Net के Football Player।

    • Goal को सेट करने के लिए आपको अपने दिमाग को खुला रखना चाहिए और अपने आप को किसी से कम नही समझना चाहिए, तभी आप एक अच्छा Goal तैयार कर पाओगे।

    • अगर आप Super Power के बारे में जानना चाहते हैं तो आप हमारे Belief in Law of Attraction वाले नियम को पढ़ सकते हैं।

    • अगर आप हमारे कहे मुताबिक Goal को Set कर चुके हैं तो आप हमारे आगे आने वाले नियम का इंतजार कीजिए। आपको जल्द ही वो नियम मिल जाएगा।

    • अगर आप Law of Attraction की सहायता से अमीर बनना चाहते हैैं तो आप आकर्षण के सिद्धांत के 14 नियम को ध्यानपूर्वक पढ़े और इसको अपनी ज़िन्दगी में उतारे।

    • अगर आप हमसे संपर्क करना चाहते हैं तो आप हमारे Contact Us पेज पर Visit करके हमसे सम्पर्क कर सकते है।

    जरूरी सूचना : अगर आप किसी प्रश्न के जवाब की तलाश कर रहे हैं और आपको मिल नहीं रहा हैं तो आप हमें हमारी Gmail पर अपना सवाल भेज सकते हैं। हम उसको आपके नाम के साथ पोस्ट में पब्लिश करेंगे।